मालशेज घाट / Malshej Ghat

                            मालशेज घाट | Malshej Ghat

      तो दोस्तों आज हम इस लेख में मालशेज घाट के बारे में देखेंगे। वहां के आकर्षक ठिकान कौन से है? मालशेज को कैसे जाए? यह सारी Information हम आज के इस लेख में देखने का प्रयास करेंगे। 


    दोस्तों अगर आप आसमान की ऊंची लकीरों पर पढ़ने वाली जोरदार और मूसलधार बारिश का और वहां की सफेद रंगों के जोर-जोर से बहाने वाले झरनों को देखना और उसका अनुभव लेना चाहते हो। और बीच में सुरंग के और जाने वाली मोड़ते हुए सड़क से आप मालशेज को जाने का अनुभव लेना चाहते हो, तो आपको नगर कल्याण मार्ग से आपको मालशेज घाट तक जाना ही होगा। और वहां पास में ही खूबी नाम का गांव है, और उस गांव के पास एक देखने जैसा खूबसूरत पिंपलगांव का जलाशय है। 


यह मालशेज घाट कल्याण नगर रोड पर स्थित है। अब तक इसे बरसाती पर्यटन स्थल के नाम से जाना जाता था। क्योंकि यहां बारिश के मौसम में यहां नजारा बहुत ही सुन्दर और देखने जैसा रहता है। और यह जगह पूरे महाराष्ट्र में लोकप्रिय है। जल्द ही इस स्थल को महाबलेश्वर माथेरान और खंडाला जैसे बारमाही हिल स्टेशन मतलब की ठंडे स्थान के रूप से जल्द ही विकसित किया जाएगा। और तो और बरसात के मौसम में कोहरे चादर से ढका हुआ यहां का पहाड़ी इलाका पर्यटकों को अपने और आकर्षित करता है, और पर्यटकों को दीवाना बना देता है। 


मालशेज घाट पर अब पर्यटकों को के लिए विशेष स्थान भी बनाए गए है, बनाए जा रहे है। और तो और पर्यटकों का बड़ी संख्या में भीड़ होने से वहा पर पर्यटकों के वाहन के लिए वहां पर सड़क के दोनों स्थानों पर विशेष पार्किंग की भी व्यवस्था किया गया है। और यहां पर एम टी डी सी वन विभाग द्वारा वहां के घाट क्षेत्र में और भी विकास कार्य किया गया है। 


मालशेज घाट के आकर्षक ठिकान 


  1. पिंपलगाव जोग बांध (यह जगह इस शहर में देखने के लिए और सबसे मनमोहक जगहों में से एक जगह है। पिंपलगाव जोग बांध की 5 किमी तक कि लंबी संरचना है। और यहां पर अनेक प्रजातियां के विदेशी पक्षी आते है। जैसे कि मूरहेन, पित्त, अल्पाइन स्विफ्ट, व्हिसलिंग थ्रश, हरा कबूतर, बटेर और चितकबरे कलगी कोयल जैसे अनेक पक्षीया देखने को मिलते है। और ज्यादातर लोग यहां पर बांध के बैकवॉटर में राजहंस पक्षियों का घोसला भी यहां देखने मिलते है।) 

  1. कोकम कड़ा 

  1. हरिशचंद्रगढ़ किला (महाराष्ट्र में हरिशचंद्रगढ़ किला यह एक पहाड़ी किला है यह किला अहमदनगर जिले में स्थित है। यह किला लगभग 4670 फिट ऊंचाई पर स्थित है।)

  1. आजोबा पहाड़ी किला (महाराष्ट्र में अजोबा हिल किला यहां पर एक लोकप्रिय स्थान है, और यहां पर हरे भरे जंगल जैसा नजारा है, जहापर आप ट्रेकिंग का आनंद ले सकते हो।) 

  1. मालशेज जलप्रपात 



मालशेज में कौनसे वनस्पति और जीव देखने को मिलते है? 


मालशेज घाट में झरनों और घाटियां देखने जैसे है ही, साथ ही साथ वहा पन विभिन्न अनेक प्रकार के वनस्पतियों और जीवों से युक्त एक सुंदर दृश्य भी है। 


यहां पर वन्यजीवो में बाघ, मोर, खरगोश, तेंदुआ आदि ऐसे विभिन्न वंयजीवों के प्रजातियां शामिल है। और यहां पर गुलाबी फ्लेमिंगो (Gulabi Flemingo), बैंगनी मुरहेन (Baingani Murhen), व्हिसलिंग थ्रश, बटेर, अल्पाइन स्विफ्ट, इत्यादि ऐसे अनेक जैसे कई पक्षियों का घर है। और यहां पर अक्सर विदेशी पक्षिया आते जाते है। इसलिए पर्यटकों का इन पक्षियों को देखने के लिए भीड़ होती है, और पर्यटकों को बहुत पसंद आते है। 


मालशेज घाट को कैसे जाए? और जाने के लिए कौनसे सुविधाएं है? 


मालशेज घाट के पास में ही मुंबई पुणे और ठाणे जैसे प्रमुख शहर है। इसलिए वहां पर जाने के लिए अनेक सुविधाएं है। पास में ही कल्याण शहर है वहांपर रेल्वे स्टेशन है जो कि मालशेज घाट से लगभग 85 किमी के दूरी पर स्थित है। आप मालशेज घाट पर जाने के लिए आप रोडवेज से भी जा सकते हो ट्रेकिंग (Trekking) के लिए। और आप मुंबई, पुणे, और ठाणे से टैक्सी और बस भी लेके जा सकते हो। 


तो दोस्तों आज हमने मालशेज घाट/ Malshej Ghat के बारे में देखने का प्रयास किया। तो अगर आपको और किसी जगह का जानकारी चाहिए वह तो आप हमें कमेंट बॉक्स Comment Section में बता सकते हो या तो पूछ सकते हो, उसके बारे में भी हम अधिक जानकारी आप तक पहुंचाने का प्रयास करेंगे। अगर आपको यह जगह अच्छी लगी तो आप अवश्य यहां पर एक बार Visit दीजिए यह जगह बहुत ही खूबसूरत है। और आपको यह information अच्छी लगी तो आप अपने friends को भी शेयर करो, क्योंकि वो भी इस जगह का आनंद ले सके।

धन्यवाद...।


    


Post a Comment

Previous Post Next Post